काल बनकर आई मेहंदी:बहन की शादी से एक दिन पहले हुआ ऐसा हादसा, भाई की मौत; अस्पताल में भर्ती है दुल्हन – Accident A Day Before Marriage, Girl Going To Get Mehendi Done Injured, Brother Dies

काल बनकर आई मेहंदी:बहन की शादी से एक दिन पहले हुआ ऐसा हादसा, भाई की मौत; अस्पताल में भर्ती है दुल्हन – Accident A Day Before Marriage, Girl Going To Get Mehendi Done Injured, Brother Dies

[ad_1]

Accident a day before marriage, girl going to get mehendi done injured, brother dies

शादी
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


एटा के जैथरा थाना क्षेत्र स्थित गांव महमंता के पास शनिवार की रात करीब 10 बजे ट्रैक्टर-ट्राॅली से टकराकर युवक की मौत हो गई। वह अपनी बहन को लेकर मेहंदी लगवाने जा रहा था, जिसकी रविवार को शादी थी। युवती और बुआ की हालत गंभीर बनी हुई है। हादसे के बाद पूरा परिवार मातम में डूबा हुआ है। शादी को टाल दिया गया है।

थाना अलीगंज क्षेत्र के गांव मुहम्मदनगर बझेरा निवासी कुलदीप कुमार (22) की मौत हुई है। उसकी बहन नीलम और बुआ राखी पत्नी नरेश सिंह निवासी मोहल्ला जाटवान कस्बा जैथरा घायल हुईं हैं। घायल राखी के पुत्र रवि कुमार ने बताया कि मां अपनी भतीजी नीलम को साथ कुलदीप की बाइक पर बैठकर मेहंदी लगवाने के लिए जा रही थी। नीलम की रविवार को बरात आनी थी। इसके लिए शादी की तैयारियां चल रही थीं। लेकिन हादसा होने से शादी की खुशियां गम में बदल गईं।

थाना प्रभारी राजकुमार सिंह ने बताया कि ट्रैक्टर-ट्राॅली खराब हो गई थी। इसकी वजह से सड़क किनारे खड़ी थी। इसमें कुलदीप बाइक लेकर पीछे से टकरा गया। इस हादसे में शादी की तैयारियों में जुटी दुल्हन अपनी बुआ के साथ घायल हुई है। जबकि उसके भाई की मौत हो गई। शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजन को सौंप दिया है।

मातम में बदलीं शादी की खुशियां

घर में शादी का माहौल था। परिवार के लोग और रिश्तेदार इकट्ठे थे। तभी हादसे की खबर ने खुशियों को मातम में बदल दिया। वैवाहिक गीतों की जगह करुण क्रंदन गूंजने लगा। ग्रामीणों ने बताया कि नीलम के पिता सतीश जैथरा नगर पंचायत में सफाई कर्मचारी हैं। नीलम की शादी जिला हाथरस निवासी सुनील के साथ तय हुई थी। रविवार को बरात आनी थी। लेकिन बहन की डोली उठने से पहले ही भाई की अर्थी उठ गई। इससे पूरे गांव में रविवार को मातमी सन्नाटा पसरा रहा। शादी को स्थगित कर दिया गया।

कुलदीप की शादी भी हो चुकी थी तय

बहन नीलम ने चार दिन पहले ही भाई दूज पर कुलदीप के माथे पर तिलक कर उसकी लंबी उम्र की कामना की थी। वहीं कुलदीप ने भी धूमधाम से बहन की शादी करने का वादा किया था। लेकिन किसी को क्या पता था कि बहन की डोली को कंधा देने से पहले उसकी ही अर्थी उठ जाएगी। उसकी असमय मृत्यु ने परिवार को झकझोर कर रख दिया। कुलदीप की शादी भी मदनपुर थाना बेबर जिला मैनपुरी की लड़की से तय हो चुकी थी। जो होली के बाद मार्च में होनी थी। लेकिन परिवार की सभी खुशियां ही इस हादसे में उजड़ गई।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *