खनन माफिया को नहीं किसी का डर:150 से अधिक मुकदमे…फिर भी नहीं लगा अंकुश; इस बार तो हद ही कर दी – Mining Mafia Not Afraid Anyone More Than 150 Cases Bulldozer Ran Over Tehsildar’s Car

खनन माफिया को नहीं किसी का डर:150 से अधिक मुकदमे…फिर भी नहीं लगा अंकुश; इस बार तो हद ही कर दी – Mining Mafia Not Afraid Anyone More Than 150 Cases Bulldozer Ran Over Tehsildar’s Car

[ad_1]

mining mafia not afraid anyone More than 150 cases Bulldozer ran over Tehsildar's car

मिट्टी खनन
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


आगरा में अवैध खनन का खेल पुराना है। इस पर रोक नहीं लग पा रही है। गांवों के रास्तों से शहर तक माफिया अपने गुर्गों की मदद से चंबल सैंड, बालू और मिट्टी का परिवहन करते हैं। पुलिस की सख्ती भी माफिया का दुस्साहस कम नहीं कर पा रही। डेढ़ साल में 150 से अधिक मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। 100 से अधिक को जेल भेजा जा चुका है। राजस्थान के माफिया के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई तक की गई, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। जैतपुर में बृहस्पतिवार को तहसील की टीम पर हुआ हमला यही दर्शाता है।

राजस्थान और मध्य प्रदेश से खनन की बालू और चंबल सैंड के वाहनों को सैंया, खेरागढ़, फतेहाबाद सर्किल के रास्तों से लाया जाता है। पुलिस इन मार्गों पर कई बार सख्ती कर चुकी है। बैरियर से रास्ते रोकने से लेकर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी तक हो रही है। मगर, अवैध खनन रुक नहीं रहा।

बैरियर तोड़कर निकले थे वाहन

सितंबर 2022 में ग्वालियर हाईवे के सैंया स्थित जाजऊ टोल प्लाजा पर खनन माफिया ने दुस्साहस दिखाया था। बूम बैरियर तोड़कर 20 से अधिक ट्रैक्टर-ट्रॉली निकाले गए थे। घटना का 52 सेकंड का वीडियो वायरल हुआ था। कर्मचारियों को भी कुचलने की कोशिश की गई थी।

विधायक ने वीडियो बनाकर की थी शिकायत

तीन महीने पहले खेरागढ़ क्षेत्र में गांवों के रास्तों से खनन की बालू लेकर जाते वाहनों का वीडियो क्षेत्रीय विधायक ने बनाया था। इसके बाद कमिश्नर से लेकर मुख्यमंत्री तक से शिकायत की थी। मामले में कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे। इसके बाद पुलिस ने सख्ती भी की थी। पर, अवैध खनन रुका नहीं।

सिपाही की हत्या तक कर चुके

नवंबर 2020 में सैंया थाने में अवैध खनन कर ट्रैक्टर-ट्राॅली राजस्थान से आगरा की तरफ आने की सूचना मिली थी। इस पर प्रभारी उप निरीक्षक सहित सिपाही पहुंचे थे। खेरागढ़ क्षेत्र में थाना सैंया में तैनात सिपाही सोनू कुमार पर ट्रैक्टर चढ़ाकर हत्या कर दी गई थी। घटना में पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी की थी।

तत्कालीन एसएसपी ने कराई थी कार्रवाई

तत्कालीन एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने अभियान चलाया था। पश्चिमी और पूर्वी जोन में कार्रवाई की गई थी। 150 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए थे। 100 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। खनन के वाहनों को भी जब्त किया था। कमिश्नरी बनने के बाद कार्रवाई पर ब्रेक लगा। बाद में कई मामले सामने आने के बाद सख्ती की गई। वाहनों को सीज किया गया। राजस्थान में पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत एक माफिया की संपत्ति भी कुर्क की थी।

गैंगस्टर एक्ट भी लगा रहे

पुलिस आयुक्त डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि अवैध खनन के मामले में पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। मुकदमे दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जा रहा है। गैंगस्टर एक्ट में भी कार्रवाई की जा रही है।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *