बदल रहा है गोरखपुर:सऊदी न तंजानिया..अब गीडा में फैक्टरी लगाकर खुद को साबित करेंगे युवा इंजीनियर – Now Young Engineers Will Prove Themselves By Setting Up A Factory In Gida Gorakhpur

बदल रहा है गोरखपुर:सऊदी न तंजानिया..अब गीडा में फैक्टरी लगाकर खुद को साबित करेंगे युवा इंजीनियर – Now Young Engineers Will Prove Themselves By Setting Up A Factory In Gida Gorakhpur

[ad_1]

now young engineers will prove themselves by setting up a factory in Gida gorakhpur

गीडा।
– फोटो : अमर उजाला।

विस्तार


अब औद्योगिक क्षेत्र गीडा (गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण) में फैक्टरी लगाने के लिए तीन इंजीनियरों ने रुचि दिखाई है। ये सभी प्लास्टिक फैक्टरियां लगाएंगे। इनमें सऊदी अरब में मोटे पैकेज वाली नौकरी छोड़कर आ रहे गुफरान और तंजानिया के प्रतीक लॉरेंस भी हैं। इनकी फैक्टरियों में प्लास्टिक पाइप, ढक्कन, प्लास्टिक शीट तो बनेगी ही, प्लास्टिक दाना यानी कच्चा माल भी तैयार होगा। जिसकी आपूर्ति पूर्वांचल ही नहीं बिहार में की जाएगी।

गीडा के सेक्टर 28 में प्लास्टिक पार्क विकसित किया जा रहा है। इसमें 80 प्लॉट हैं, जिनमें से 28 का आवंटन दो दिन पहले ही किया गया है। उद्योग लगाने वालों में से एक सऊदी अरब में एक कंपनी में प्लांट मैनेजर गुफरान हैं, जो मोटे पैकेज वाली नौकरी छोड़कर यहां अपनी फैक्टरी लगाने आ रहे हैं। इसके अलावा तंजानिया में फैक्टरी चला रहे इंजीनियर प्रतीक लॉरेंस भी स्वेदश लौट रहे हैं। प्रतीक की फैक्टरी में प्लास्टिक दाना बनाया जाएगा।

एमएमएमयूटी से इन्वायरमेंटल साइंस में एमटेक करने वाले पुनीत श्रीवास्तव भी गीडा क्षेत्र में अपनी फैक्टरी लगाएंगे। गोरखपुर में प्लास्टिक पार्क विकसित होने की जानकारी से खासे उत्साहित हैं। इन तीनों फैक्टरियों से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से 1500 रोजगार मिलने का उम्मीद है।

इसे भी पढ़ें: एक माह में मिले 29 मरीज, सिर्फ दस निजी अस्पतालों ने भेजे आंकड़े

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *