मदुरै रेल हादसा:चारबाग जंक्शन पर नहीं हुई थी कोच की जांच, गैस सिलेंडर अंदर पहुंचा कैसे? रेलवे ने दी सफाई – Madurai Train Accident: Coach Was Not Checked At Charbagh Junction

मदुरै रेल हादसा:चारबाग जंक्शन पर नहीं हुई थी कोच की जांच, गैस सिलेंडर अंदर पहुंचा कैसे? रेलवे ने दी सफाई – Madurai Train Accident: Coach Was Not Checked At Charbagh Junction

[ad_1]

Madurai train accident: Coach was not checked at Charbagh Junction

घटना के बाद शनिवार को स्टेशन पर गहन जांच की गई।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


मदुरै रेलवे स्टेशन के यार्ड में जिस ट्र्रेन के कोच में आग लगने से हादसा हुई वह 17 अगस्त को चारबाग जंक्शन से रवाना हुआ थी। उस दौरान ट्रेन के कोच में जो सामान यात्रियों ले गए थे उसकी जांच नहीं हुई थी। आग लगने की घटना के बाद चारबाग जंक्शन के निदेशक ने सफाई दी है कि लखनऊ से गैस सिलेंडर कोच में नहीं गया था। कोच बुक कराने वाले ट्रेवेल एजेंसी ने भी यह प्रमाण पत्र दिया था कि कोच में किसी भी प्रकार का ज्वलनशील सामान नहीं ले जाया जा रहा है।

चारबाग जंक्शन के स्टेशन निदेशक अरविंद पांडेय का कहना है कि यहां से गैस सिलेंडर ट्रेन में नहीं रखा गया। लखनऊ के बाद ट्रेन उन्नाव व कानपुर में रुकी है। इन दोनों स्टेशनों से भी श्रद्धालु ट्रेन में सवार हुए। हो सकता है कि उन स्टेशनों से कोई गैस सिलेंडर लेकर गया। सही क्या है यह जांच के बाद ही पता चलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि कोई भी ट्रैवेल एजेंसी कोच बुक कराती है तो उसे रेलवे के नियम और शर्तो से पालन करना होता है। जिसमें ज्वलनशील सामान नहीं लेने के जाने के लिए एजेंसी की ओर से प्रमाण पत्र दिया गया था। इसके बाद भी कोच में गैस सिलेंडर जाने की बात आ रही है। यदि ट्रेवले एजेंसी की लापरवाही सामने आय तो उस पर कार्रवाई होगी।

हादसे के बाद अलर्ट मोड पर आया प्रशासन

चेन्नई स्पेशल ट्रेन के टूरिस्ट कोच में सिलेंडर से आग लगने की घटना के बाद रेल प्रशासन ने शनिवार को चारबाग जंक्शन में यात्रियों के समान की जांच कराई। इस दौरान किसी के पास ज्वलनशील सामान नहीं मिला। जांच कई जगह तो यात्रियों की बिना जांच ही सामान ले जाते दिखे। कोच के अंदर भी जांच के नाम पर रस्म अदायगी की ग

रेल संरक्षा आयुक्त ने शुरू की घटना की जांच

मदुरै रेलवे स्टेशन के यार्ड में ट्रेन में आग की घटना की जांच सीआरएस (रेलवे संरक्षा आयुक्त) ने शुरू कर दी है। दक्षिणी सर्कल बंगलुरू के रेलवे सुरक्षा आयुक्त एएम चौधरी ट्रेन में आग लगने की घटना की वैधानिक जांच करेंगे। यह जांच आईआरसीटीसी के पर्यटक कोच की होगी। जांच के दौरान लोगों से पूछताछ भी होगी। जिसमें जनता का कोई भी सदस्य जिसे घटना और मामले से संबंधित जानकारी हो इससे जुड़े हैं और साक्ष्य देने के इच्छुक हैं तो डीआरएम मदुरई के यहां 27 अगस्त 2023 को पहुंचकर जानकारी दे सकते है। यह जानकारी रेल संरक्षण भवन बेंगलुरु के सीपीआरओ बी.गुगनेसन ने दी।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *