हलवा का जलवा:डेढ़ सौ वर्ष पुराना है यह, आता है कई बीमारियों में काम – One And A Half Year Old Pudding On Dhanvantari Jayanti

हलवा का जलवा:डेढ़ सौ वर्ष पुराना है यह, आता है कई बीमारियों में काम – One And A Half Year Old Pudding On Dhanvantari Jayanti

[ad_1]

One and a half year old pudding on Dhanvantari Jayanti

विजयगढ़ में औषधीय हलवा वितरित करते फार्मेसी के कर्मी
– फोटो : संवाद

विस्तार


अलीगढ़ के विजयगढ़ में धनतेरस का विशेष महत्व है। यहां धन्वंतरि की पूजा पूरे विधि विधान से होती है। भगवान धन्वंतरि के पूजन के लिए बनने वाला प्रसाद भी विशेष है। इसे केसर, मुनक्का, बादाम, छोटी इलायची, लाैंग, जावित्री, कपूर, घी और चीनी से मिला कर बनाया जाता है। पकाने के बाद ये हलवे के तरह हो जाता है। वैद्य गोपाल गर्ग ने बताया कि इस प्रसाद को सर्दी की शुरुआत में खाने से शारीरिक ऊर्जा बढ़ती है। सर्दी-जुकाम, बुखार, कब्ज दूर करने, पाचन शक्ति बढ़ाने में लाभदायक होता है। इसका वितरण अलीगढ़ तक होता है।

यहां हुई कथा में पंडित परम किशोर शर्मा ने बताया कि सनातन धर्म में धन्वंतरि देव को भगवान विष्णु का अवतार माना जाता है। अमृत प्राप्ति के लिए देवताओं और दानवों के बीच समुद्र का मंथन किया गया था, जिसमें 14 रत्नों की प्राप्ति हुई। मंथन के बाद अमृत की प्राप्ति हुई जो भगवान धन्वंतरि समुद्र से हाथ में अमृत कलश लेकर प्रकट हुए। कस्बे की आयुर्वेदिक फार्मेसियों में भगवान धन्वंतरि की पूजा अर्चना की गई। कस्बे में तीन ही आचार्य होने के कारण कुछ जगहों पर पूजा पाठ शनिवार को होगी।

फार्मेसियों के प्रबंधकों ने स्टाफ के साथ मिलकर हवन में आहुति दी। प्राणाचार्य आयुर्वेदिक फार्मेसी में धन्वंतरि प्राणाचार्य आरोग्यम ई पत्रिका का विमोचन वैद्य स्वदेश अग्रवाल ने किया। आचार्य पंडित परम किशोर शर्मा, पंडित राजकुमार शर्मा, पंडित श्रीकृष्ण शर्मा ने फार्मेसियों में पूजा अर्चना कराई। देर शाम धन्वंतरि कार्यालय स्टेट पर वैद्य यतेंद्र गर्ग, प्राणाचार्य भवन आयुर्वेद संस्थान पर शशांक अग्रवाल, बाबा फार्मास्यूटिकल्स पर आशीष अग्रवाल, चरक फार्मेसी में जितेंद्र आर्य, भारद्वाज फार्मेसी में नितिन भारद्वाज, वैद्य अखिल तिवारी ने भगवान धन्वंतरि की पूजा अर्चना कराई। कुछ फार्मेसी में भगवान धन्वंतरि की पूजा व हवन शनिवार की देर शाम होगा।

इस मौके पर मुरारीलाल गर्ग, वैद्य स्वदेश अग्रवाल, रामकिशोर अग्रवाल, डॉक्टर गंगा प्रसाद, त्रिलोकीनाथ गर्ग, नीरज गोयल, पंकज गोयल, हरीश गर्ग, शशांक अग्रवाल, आशीष अग्रवाल, वैद्य रामशंकर शर्मा, वैद्य मुदित गर्ग, नीतेश शर्मा, पीयूष गर्ग, मयंक गर्ग, अमन गर्ग, माधव गर्ग,संजय गर्ग, योगेश गर्ग, ठाकुर योगेशपाल सिंह, लज्जाराम यादव, वैद्य एके शर्मा ,अनिल गुप्ता, डॉ. सर्वेश, राजेश शर्मा आदि मौजूद रहे।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *