Agra:अस्पताल संचालक की गुंडई, मरीज न लाने पर एंबुलेंस चालक को बनाया बंधक; ओटी में दी कंपा देने वाली यातनाएं – Case Of Beating Of An Ambulance Driver Has Come To Light In Agra For Not Bringing Patient To Hospital

Agra:अस्पताल संचालक की गुंडई, मरीज न लाने पर एंबुलेंस चालक को बनाया बंधक; ओटी में दी कंपा देने वाली यातनाएं – Case Of Beating Of An Ambulance Driver Has Come To Light In Agra For Not Bringing Patient To Hospital

[ad_1]

case of beating of an ambulance driver has come to light in Agra for not bringing patient to hospital

Agra News: एंबुलेंस चालक को ले जाते गुंडे
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


उत्तर प्रदेश के आगरा में हॉस्पिटल में मरीज नहीं लाने पर एंबुलेंस चालक की पिटाई का मामला सामने आया है। आरोप है कि संचालक चालक को कार से हॉस्पिटल ले गए। बंधक बनाकर पिटाई की। जातिसूचक शब्द भी बोले। उसकी पत्नी को बुलाकर भी अभद्रता की। मामले में थाना एत्माद्दौला में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

नुनिहाई निवासी राजेश ने पुलिस को बताया कि वह एंबुलेंस चलाकर अपने परिवार का पालन-पोषण करता है। उसने आरोप लगाया कि न्यू आगरा थाना क्षेत्र स्थित श्री हरि हास्पिटल के संचालक मोहित अग्रवाल काफी समय से मरीजों को अपने हास्पिटल में लाने का दबाव बना रहे थे। मगर, वो ऐसा नहीं करता। मरीज के कहे अनुसार ही हास्पिटल में ले जाते थे।

यह भी पढ़ेंः- UP: रेस्त्रां के कमरे में इस हाल में थे युवक और युवतियां…अचानक पहुंच गए एसडीएम, हो गए शर्म से पानी-पानी

छह अक्तूबर को वो मनोज जैन के हास्पिटल के बाहर खड़ा था। तभी मोहित अग्रवाल, वंश अग्रवाल, कुनाल सहित 3-4 अज्ञात लोग आ गए। एंबुलेंस से उतारकर मरीज नहीं लाने को लेकर गालीगलौज करने लगे। जातिसूचक शब्द बोले। विरोध पर पिटाई की। अपनी इनोवा में डालकर हॉस्पिटल ले गए। 

यहां ऑपरेशन थिएटर में डंडे और चप्पलों से पीटा। हाथ बांधकर डाल दिया। फोन करके पत्नी को भी बुलाया। उससे भी अभद्रता की। दर्द की दवाई देकर कागजात पर हस्ताक्षर करा लिए। मरीज लाने की धमकी देते हुए 10 बजे छोड़ा। एक घंटे बाद एंबुलेंस दी। 

यह भी पढ़ेंः- UP: 20 घंटे गंगा की लहरों से संघर्ष करता रहा बुजुर्ग, जिंदा निकला तो बताई आपबीती; रोंगटे खड़े कर देगी हकीकत

थाना प्रभारी निरीक्षक राजकुमार ने बताया कि बंधक बनाने, मारपीट, एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है। घायल का मेडिकल कराया गया है। साक्ष्य संकलन कर कार्रवाई की जाएगी। घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। हालांकि पुलिस की पूछताछ में संचालक ने आरोप गलत बताए।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *