Agra News:पुलिस के सामने वृद्ध ने डीजल छिड़क की आत्मदाह की कोशिश, यह है पूरा मामला – Old Man Tried To Commit Suicide By Spraying Diesel In Front Of Police In Agra

Agra News:पुलिस के सामने वृद्ध ने डीजल छिड़क की आत्मदाह की कोशिश, यह है पूरा मामला – Old Man Tried To Commit Suicide By Spraying Diesel In Front Of Police In Agra

[ad_1]

old man tried to commit suicide by spraying diesel in front of police In Agra

ट्रांस यमुना कॉलोनी में खुद पर डीजल उड़ेलता वृद्ध
– फोटो : अमर उजाला



विस्तार


ताजनगरी आगरा के ट्रांस यमुना कॉलोनी में सोमवार को केनरा बैंक के कर्मचारियों के साथ पुलिस व प्रशासन की टीम मकान पर कब्जा लेने पहुंची थी। पुलिस के जबरन मकान खाली कराने पर 62 वर्षीय मकान स्वामी कप्तान सिंह ने खुद पर डीजल डालकर आत्मदाह की कोशिश की। पुलिस ने उन्हें आग लगाने से रोका। हंगामा होने पर पुलिस वृद्ध को थाने ले आई। एक दिन में मकान खाली करने की मोहलत दी गई है।

ट्रांस यमुना फेज-दो के भवन संख्या जी-52 में कप्तान सिंह परिवार सहित रहते हैं। सोमवार को थाना एत्माद्दौला के प्रभारी निरीक्षक राजकुमार और तहसील एत्मादपुर के नायब तहसीलदार बैंक कर्मियों के साथ पहुंचे। कप्तान सिंह ने कुछ दिन का समय मांगा। 

यह भी पढ़ेंः- UP: होटल के कमरे में थे प्रेमी-प्रेमिका, अचानक चीखने की आने लगी आवाजें; भागकर पहुंचा स्टाफ… और फिर जो देखा

मगर, पुलिस प्रशासन की टीम ने मकान खाली कराने का प्रयास किया। इस पर परिवार की महिलाएं कमरे में बंद हो गईं। कप्तान सिंह ने खुद पर डीजल उड़ेल लिया। आग लगाने की कोशिश करने लगे। पुलिसकर्मियों ने उन्हें पकड़ लिया। हंगामा होने पर पुलिस उन्हें अपने साथ थाने ले गई।

बकाया रकम का भुगतान नहीं किया

केनरा बैंक के लीगल एडवाइजर अरविंद सिंह ने बताया कि कप्तान सिंह ने बैंक से ऋण लिया था। मगर, किस्त अदा नहीं की। इस पर उन्हें नोटिस भेजे गए। मगर, उन्होंने बकाया रकम का भुगतान नहीं किया। इस पर वर्ष 2013 में मकान को बेच दिया गया। मगर, तब से कप्तान सिंह ने घर खाली नहीं किया है। बैंक की ओर से हाईकोर्ट में अपील की गई थी। हाईकोर्ट के आदेश पर पुलिस प्रशासन के साथ बैंक कर्मी गए थे।

मकान में रह रहे चार परिवार

वहीं कप्तान सिंह के बेटे संजय सिंह ने बताया कि घर में माता-पिता सहित छह लोग रह रहे हैं। तीन किरायेदार भी हैं। उन्होंने मकान बनवाने के लिए 7.75 लाख रुपये ऋण लिया था। वर्ष 2013 में चुका भी दिया था। मगर, बैंक प्रबंधक ने गलत तरीके से मकान अपने परिचित को बेच दिया। उन्होंने हाईकोर्ट में अपील की है। अगर, मकान खाली कर देंगे तो वो लोग कहां जाएंगे? थाना प्रभारी राजकुमार ने बताया कि कप्तान सिंह को एक दिन का समय दिया गया है।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *