Azamgarh:शिक्षकों ने काली पट्टी बांधकर जताया विरोध, आखिर ऐसा क्या हुआ कि सड़कों पर हुआ प्रदर्शन? – Teachers Protested By Tying Black Bands, What Happened After All That There Was A Protest On The Streets?

Azamgarh:शिक्षकों ने काली पट्टी बांधकर जताया विरोध, आखिर ऐसा क्या हुआ कि सड़कों पर हुआ प्रदर्शन? – Teachers Protested By Tying Black Bands, What Happened After All That There Was A Protest On The Streets?

[ad_1]

Teachers protested by tying black bands, what happened after all that there was a protest on the streets?

Azamgarh: शिक्षकों ने काली पट्टी बांधकर जताया विरोध
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड अधिनियम 1982 की सेवा सुरक्षा संबंधी धारा 21 एवं तदर्थ प्रधानाचार्य पदोन्नति की धारा 18 के साथ ही धारा 12 उत्तर प्रदेश सेवा चयन आयोग 2023 में शामिल न किए जाने से शिक्षकों में नाराजगी है। इस बात से नाराज शिक्षकों ने मंगलवार को अंबारी में बांह में काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया और सरकार की शिक्षक कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया।

यह भी पढ़ें-  Varanasi: महामानपुरी कॉलोनी में एनआईए का छापा, BHU की दो छात्राओं से पूछताछ जारी, यूपी में मचा हड़कंप

तहसील अध्यक्ष माध्यमिक शिक्षक संघ प्रदीप यादव ने बताया कि हम शिक्षकों को धारा 12, 18 एवं 21 के तहत कई अधिकार मिले थे। जिसे समाप्त कर सरकार शिक्षकों का अधिकार छीन लिया है। इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके लिए प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा सरकार में शामिल जिम्मेदारों से बातचीत चल रही है। प्रदेश कार्यकारिणी के निर्देशानुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी। हम शिक्षकों एवं कर्मचारियों की पुरानी पेंशन भी समाप्त की गयी है। जब तक उसे लागू नहीं किया जाएगा आंदोलन चलता रहेगा। शिक्षकों ने छात्र हित को देखते हुए पूरे दिन शिक्षण कार्य किया। इस मौके पर प्रधानाचार्य हरेंद्र प्रताप सिंह, परशुराम यादव, प्रदीप कुमार यादव, संजय पटेल, आशुतोष, रामसकल यादव, शेषनाथ यादव, कवलजीत सिंह आदि उपस्थित थे।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *