Ghazipur:आर्मी जवान का पार्थिव शरीर प्राइवेट एंबुलेंस से भेजे जाने से परिजन नाराज, वाराणसी-गाजीपुर हाईवे जाम – Army Jawan’s Dead Body Being Sent By Private Ambulance, Relatives Angry, Varanasi-ghazipur Highway Jammed

Ghazipur:आर्मी जवान का पार्थिव शरीर प्राइवेट एंबुलेंस से भेजे जाने से परिजन नाराज, वाराणसी-गाजीपुर हाईवे जाम – Army Jawan’s Dead Body Being Sent By Private Ambulance, Relatives Angry, Varanasi-ghazipur Highway Jammed

[ad_1]

Army jawan's dead body being sent by private ambulance, relatives angry, Varanasi-Ghazipur highway jammed

आर्मी जवान के पार्थिव शरीर प्राइवेट एंबुलेंस से भेजे जाने से परिजन आक्रोशित
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


आर्मी जवान के पार्थिव शरीर को प्राइवेट एंबुलेंस से घर भेजे जाने से परिजन आक्रोशित हो गए हैं। वे वाराणसी-गाजीपुर बार्डर स्थित खरौना में राजवाड़ी पुल पर हाइवे जाम कर दिए हैं। इससे दोनों तरफ की गाड़ियां जहां-तहां खड़ी हो गई है। प्रदर्शनकारी मांग कर रहे हैं आर्मी जवान के पार्थिव शरीर को सेना की गाड़ी से ही भेजा जाए। 

यह भी पढ़ें- 45 दिनों का मेगा ब्लॉक: सिग्नल और पैनल सिस्टम नहीं करेगा काम, ये ट्रेनें रहेंगी निरस्त, पढ़ें पूरी लिस्ट

सादात थाना क्षेत्र के इकरा गांव निवासी आर्मी जवान हवलदार राजेंद्र यादव की शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के लाला द बाग में ड्यूटी के दौरान हृदयगति रूकने से निधन हो गया था। आर्मी के साथी जवानों के मुताबिक वह ड्यूटी के दौरान गश्त आने पर अचानक गिर पड़े। साथी जवानों ने उन्हें हास्पिटल पहुंचाया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। आर्मी अधिकारियों से सूचना मिलते ही परिजनों के रोने- बिलखने से चीख- पुकार मच गई। परिवार में सैनिक की पत्नी रीता देवी अपने दोनों बच्चों के साथ गांव पर ही रहती हैं। सैनिक का बड़ा पुत्र अंश सात वर्ष का है और दूसरा पुत्र आयुष यादव पांच वर्ष का है।

 

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *