Ghazipur:छेड़खानी मामले की लीपापोती करना एसआई और सिपाही को पड़ा भारी, दोनों निलंबित – Ghazipur: Covering Up Molestation Case Cost Si And Constable A Lot, Suspended

Ghazipur:छेड़खानी मामले की लीपापोती करना एसआई और सिपाही को पड़ा भारी, दोनों निलंबित – Ghazipur: Covering Up Molestation Case Cost Si And Constable A Lot, Suspended

[ad_1]

Ghazipur: Covering up molestation case cost SI and constable a lot, suspended

निलंबित (सांकेतिक तस्वीर)
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


छेड़खानी के एक मामले में लीपापोती करना एसआई और सिपाही को भारी पड़ गया। पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह ने मामले संज्ञान में आने के बाद जांच कराकर दोनों को निलंबित कर दिया है। मामला नंदगंज थाने का है।

यह भी पढ़ें- IIT BHU: बेटियों को संघर्ष जन्मपत्री में मिलते हैं, आप बस आंखों से अंधेरे का डर खत्म करवा दें

नंदगंज थाना क्षेत्र एक गांव निवासी पीड़िता ने छेड़खानी की शिकायत बीते दिनों थाने में किया। मामले में थाने पर तैनात एसआई मोरध्वज दुबे और सम्पूर्णानंद ने लीपापोती कर दी। आरोप है कि दोनों ने बिना थानाध्यक्ष को संज्ञान में प्रकरण की जानकारी दिए आरोपी युवक का 151 में चालान कर दिया, जबकि इस प्रकरण में मुकदमा दर्ज कर प्रभावी कार्रवाई की जानी होनी चाहिए। इसकी शिकायत पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक से की। एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी सिटी ज्ञानेंद्र प्रसाद से जांच कराई, जो मौके पर गए तो शिकायत की पुष्टि हुई। एसपी सिटी की जांच आख्या पर एसपी ने मामले में नियमानुसार कार्रवाई न करने और लापरवाही बरतने के आरोपी एसआई और आरक्षी को निलंबित कर दिया है। उन्होंने बताया कि नंदगंज पर तैनात एसआई मोरध्वज दुबे व आरक्षी संपूर्णानंद को महिला संबंधी अपराध की घटना की सूचना प्राप्त होने पर प्रकरण में विधि सम्मत कार्रवाई न किये जाने पर साथ ही साथ प्रकरण में लापरवाही व अनुशासनहीनता बरतने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध विभागीय जांच के आदेश दिया है। साथ ही पीड़िता की तहरीर के आधार पर सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करते हुए विधिक कार्रवाई की जा रही है।

[ad_2]

Source link

anuragtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *